नींद विकार – Disordered Sleep | homeopathological treatment

नींद विकार – Disordered Sleep

नींद के दौरान खास लक्षण: नींद में बोलना, नींद न आना, आदि इसमे दिए गए हैं।

 ● पेट के बल सोना – (मेडोराइनम 1M, 2-3 खुराक) 

 ● बच्चे जिनका पेट ज्यादा खाने व कीड़ों के कारण बड़ा हो; पेट के बल सोये। पालने में अच्छी नींद आए, तेज थपकियों के बाद हीं बच्चा सो पाए – (सिना 30 या 200) 

 ● बच्चा दूध उलटने के बाद गहरी नींद सोये – (ऐथ्यूजा 30) 

 ● नींद में डरावने सपने देखना, चिल्लाना, दाँत किटकिटाना – (काली ब्रोम 30) 

 ● नींद के दौरान आँखे आधी खुली रहें – (लाइकोपोडियम 30 या 200) 

 ●  रोगी दिन में सोए व रात में रोए – (जलापा 30) 

 ●  खुशी के कारण नींद न आए – (कॉफिया 30 या 200) 

 ● मानसिक तनाव के कारण नींद न आए – (नक्स वोमिका 30 या 200) 

 ● नींद में सुबकियां आए – (ऑरम मेट 200 या 1M) 

 ● पढ़ने से नींद आए – (मैग फॉस 6x या 30) 

 ● नींद में बोलना – (पल्साटिला 30) 

 ● अंधेरे में न सो पाना – (स्ट्रामोनियम 30 या 200) 

 ● अचानक नींद टूट जाए और नीचे की ओर गिरने का भय हो – (बोरेक्स 30) 

 ● नींद न आना (मुख्य दवा) – (पैसिफ्लोरा Q, 20 बूंद सोते समय) 

 ● बायोकैमिक दवा – (फेरम फॉस 30x व काली फॉस 6x) 

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x