यात्रा के दौरान उल्टी – Travel Sickness

यात्रा के दौरान उल्टी – Travel Sickness

कई व्यक्तियों को रेल, नाव, जहाज, आदि में यात्रा करने पर जी मिचलाने लगता है l पहाड़ों की यात्रा में, बस या रेल से यात्रा करने पर जी मिचलाना व उल्टी हो जाती है l सबको यह कष्ट नहीं होता है परन्तु कुछ लोगों को यह कष्ट होता है l यात्रा के दौरान नींबू चुसना या इलायची मुंह में रखना लाभदायक है l

●  कार, बस या जहाज में यात्रा करने से उल्टी – (कोकुलस इन्डिका 30, हर 1 घन्टे बाद)

● सिगरेट का धुआं बुरा लगे, चक्कर आये व जी मिचलाए – (स्टेफिसेगिरिया 30, हर आधे घंटे बाद)

● आँख बंद करने, पानी पीने, व पानी की ओर देखने से उल्टी – (थेरिडियोन 30, 3-4 खुराक)

● खट्टी उल्टी; कम सोने के कारण कष्ट बढ़े – (नक्स वोमिका 30, दिन में 3 बार)

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x