पित्त की पथरी का दर्द – Gall stone colic

पित्त की पथरी का दर्द – Gall stone colic

● पित्त की पथरी के दर्द की प्रमुख दवा – (कोलैस्ट्रीनम 3x, दिन में 3 बार) 

 ● जब दर्द दाएं कंधे के निचले हिस्से में हो। यकृत को दबाने से दर्द महसूस हो। चेहरा पीला, फीका सा लगे। उल्टियां आए, पसीना पीला दाग छोड़े – (चेलिडोनियम 30, दिन में 3 बार) 

 ● पित्त की पथरी। पीलिया। यकृत के आसपास में बेचैनी एवं भारीपन महसूस हो – (कार्डूअस मैरिएनस Q या 6, दिन में 3 बार) 

 ● पित्त की पथरी व पीलिया। खाने की इच्छा न हो, ठंड लगे – (नक्स वोमिका 30, दिन में 3 बार) 

 ● जब रोगी को ठंडे पेय पीने की तीव्र इच्छा हो – (फॉस्फोरस 200, सप्ताह में एक बार) 

 ● प्रमुख दवा; जब पित्त की पथरी का दर्द बंधे समय पर आए(periodical)। यकृत को छूने एवं दबाने से दर्द महसूस हो। खाने की इच्छा न हो जबकि भूख लगती हो, पाचन क्रिया मंद हो – (चाइना 6 या 30, दिन में 3 बार, 2-3 महीने लगातार दें) 

 ● पित्त की पथरी का बनना रोकने के लिए। जब साथ में कब्ज भी हो – (चियोनैंथस विर Q, दिन में 3 बार)

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x