कब्ज – Constipation

कब्ज – Constipation 

मल साफ़ न आना कब्ज कहलाता है l लक्षण: पाखाना साफ़ नहीं होना या कई बार थोड़ा – थोड़ा पाखाना आना l कारण : लीवर का रोग, ठीक – ठीक भोजन न करना, नियमित रूप से परिश्रम न करना आदि l

● साधारण कब्ज में – (नक्स वोमिका 30, रोज सोते समय एवं सल्फर 30, रोज सुबह)

● जब मल बहुत कड़ा बकरी की मेंगनी की तरह का हो – (एलुमिना 30, दिन में 3 बार)

●  मल बहुत कड़ा व बड़े बड़े लैंड के रूप में निकलता हो और आंव लिपटा हुआ हो – (ग्रेफाइटिस 30, दिन में 3 बार)

●  बार – बार पाखाना जाने की इच्छा पर पाखाना होता नहीं; मल सुखा व कड़ा l बैठे रहने की अपेक्षा खड़े होने पर आसानी से पाखाना होता है – (कॉस्टिकम 30, दिन में 3 बार)

●  मलद्वार में डाट सी लगी हुई अनुभव हो – (लाइकोपोडियम 30, दिन में 3 बार)

● जब कब्ज की वजह से पेट अन्दर को धंसता सा महसूस हो – (हाइड्रैस्टिस Q या 30, दिन में 3 बार)

● जब मल छोटी – छोटी गोलियों की तरह हो, शौच जाने की हाजत बिलकुल न हो, कई दिन तक पाखाना न होने पर भी कष्ट नहीं होता – (ओपियम 30, दिन में 3 बार)

पानी बहुत मात्रा में पीयें, हल्का सादा भोजन करें, हरी सब्जियां, सलाद व फल प्रचुर मात्रा में खाएं तली हुई व महीन चीजों (मैदा से बने खाद्य पदार्थ) का सेवन बिलकुल न करें l  

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x