एग्जीमा – Eczema

एग्जीमा – Eczema

खुजली, जलन एवं दर्द के साथ त्वचा के ऊपर होने वाले दानों को एग्जीमा कहते हैं l यह शरीर के किसी भी हिस्से में हो सकता है l कान, शरीर के जोड़ व माथे, या कान के पीछे यह रोग ज्यादा होता है l यह सुखा भी हो सकता है या चिपचिपा स्राव निकलने वाला भी हो सकता है l

●  त्वचा खुश्क, व छिछड़ेदार(Scaly) l रोगी के आँख की पलकें, कान, नाक के अगले हिस्से लाल हो – (सल्फर 30, दिन में 2-3 बार)

● त्वचा खुश्क व छिछड़ेदार(Scaly), खासकर चेहरे व सिर में, बदबूदार स्राव भी निकले – (सोराइनम 200, दिन में 2-3 बार)

●  त्वचा पर दाने व फुंसियो के कारण अत्यधिक खुजली हो – (रस टाक्स 30, दिन में 3 बार)

● पतला पानी बहना और जहा पानी लगता है वहा भी घाव जैसा हो जाना  – (टेलुरियम 30 , दिन में 3 बार)

●  जब पानी गाढ़ा बहे – (ग्रेफाइटिस -30, दिन में 3 बार)

●   सिर के एग्जीमा मे – (मेजेरियम – 30, दिन मे 3 बार)

●  एग्जीमा की बायोकैमिक दवा – (कैल्केरिया सल्फ़ 6X, दिन में 4 बार)

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x