उन्माद (पागलपन) – Insanity

उन्माद (पागलपन) – Insanity

 मन की स्वाभाविक अवस्था मे गड़बड़ी हो जाने को उन्माद कहते हैं। उन्माद या पागलपन में रोगी में अलग अलग प्रकार के लक्षण होते हैं। रोगी कभी बहुत बोलने लगता है, कभी गाने लगता है, कसमें खाता है, मारता है, काटता है, कपड़े फाड़ता है; मन में अनेक प्रकार के भ्रम हो जाते हैं।

 कारण: वंशगत दोष, बहुत ज्यादा नशीली चीजें खाना, बहुत ज्यादा इन्द्रिय सेवन या नकली मैथुन, बहुत अधिक शोक, मानसिक पोषण कम होना, बहुत परिश्रम करना, आदि।

● तोड़ – फोड़, गाली – गलौच, दूसरों पर थूकना; बोलने व काम करने में अत्यधिक तेजी। चेहरा लाल, प्रकाश असहनीय – (बेलाडोना 30 या 6, दिन में 3 बार)

● बेहूदी हरकतें करना, चिल्लाना, हँसना, ईर्ष्यालु और शंकाशील, बकवास करना, गुप्तांगो पर हमेशा हाथ रखना – (हायोसाइमस 30 या 200, दिन में 3 बार)

● चेहरा लाल, बहुत बकवास करना, ऊंचा बोलना, गाने गाना, गाली देना, मारना, मुँह से सीटी बजाना, कपड़े फाड़ डालना। रोगी अंधेरे से डरता है मगर चमकती हुई चीज या पानी को देख कर दौरा पड़ जाता है। मौत का डर हर समय रहता है। ऐसा लगता है जैसे उसका कोई अंग बहुत बड़ा हो गया है – (स्ट्रामोनियम 30 या 200, दिन में 3 बार)

● जब समय, दूरी व स्थान का ज्ञान न रहे। भुल्लकड़पन, मजेदार बातों में खोया रहे, हंसना शुरू करे तो हंसता ही रहे, उंगली नचाता रहे, आदि – (कैनेबिस इंडिका 6 या 30, दिन में 3 बार)

● अपने आप को मानसिक व शारीरिक रूप से बहुत बड़ा व बाकी सब को बहुत छोटा समझे – (प्लैटिना 200 या 1M, 10-15 दिन में एक बार)

● चेहरा पीला व बेहद कमजोरी। बाकी लक्षण स्ट्रामोनियम की तरह हो। छेड़ते ही बकवास शुरू कर दे – (विरेट्रम एल्ब 30, दिन में 3 बार)

●  जब आत्महत्या का आवेग हो – (ऑरम मैट 200 या 1M, 2-3 खुराक दें)

● अपने को धनवान, राजा समझे। चिथड़े पहन कर भी सोचे कि बहुत सुंदर वस्त्र पहने हैं – (सल्फर 30 से 10M तक जरूरत अनुसार)

● औरतों में मासिकधर्म दब जाने के कारण रोग – (पल्साटिला 200 या 1M की 2-3 खुराक)

● निराशा, शोक, चिंता व डर, आदि के कारण रोग – (इग्नेशिया 200या 1M, दिन में 2-3 बार)

● कसमें खाना, लगे जैसे कि किसी दूसरी आत्मा के अधीन है – (ऐनाकार्डियम 30 या 200, दिन में 2-3 बार)

● सिर में चोट लगने के कारण रोग, छुए जाने का डर – (आर्निका 200 या 1M, 2-3 खुराक)

● दुःखी मन, रंज, गम के कारण रोग। रोगी अकेला रहना चाहता है ताकि रो सके। सांत्वना बुरी लगती है – (नैट्रम म्यूर 200 या 1M की 2-3 खुराक)

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x